tl 3

Black fungus क्या है? | What is black fungus in hindi?

पोस्ट को share करें-

Black fungus “mucormycosis” नाम का एक fungal infection है, जो अब covid से ठीक हुए patient को होने लगा है। Black fungus नाक से होते हुए आँखों में और फिर सिर में फ़ैल जाता है। अगर यह आँखों तक पहुच गया तो न सिर्फ आँखों की रौशनी चली जाती है, बल्कि आँखों को निकालना तक पर सकता है, वरना patient कि जान जा सकती है। और तो और इस खतरनाक रोग में मृत्यु दर 50% से भी अधिक है।

कैसे फैलता है यह इन्फेक्शन?

Covid के वह patient जिनको ऑक्सीजन कि आवश्यकता होती है, अगर उस ऑक्सीजन के फ़िल्टर में tap water का इस्तेमाल किया जाता है या फिर अगर ऑक्सीजन कि नली में moisture रह जाता है, तो उसकी वजह से fungal इन्फेक्शन हो सकता है।

या जब किसी patient के फेफरो के सूजन को कम करने के लिए steroids दिया जाता है, तो कई बार इसके side effect के कारण patients में सुगर की मात्र बढ़ जाती है, और fungal इन्फेक्शन से लरने के लिए जो immunity है वो कम हो जाती है, जिससे black fungus होने का खतरा बढ़ जाता है।

क्यूंकि steroids के side effect के कारण सुगर की मात्रा बढ़ जाती है, इसलिए इससे डायबिटिक पेशेंट को यह बीमारी होने का खतरा ज्यादा रहता है, हालांकि यह बीमारी सिर्फ डायबिटिक लोगो तक सिमित नहीं है, और यह बिना चीनी की बीमारी वाले लोगो में भी फ़ैल रही है।

black fungus rep image

Black fungus के symptoms?

आइये अब हम जानते है इस बीमारी के कुछ symptoms के बारे में जिससे आप पता लगा सकते है कि कुछ दिनों पहले ठीक हुए covid पेशेंट को black fungus की बीमारी है या नहीं –

  • नाक बंद होना।
  • नाक से black कलर का liquid निकलना।
  • नाक से खून बहना।
  • आँखों में दर्द या सुजन होना।
  • गाल में दर्द होना।
  • दांत ढीला परना।
  • चेहरे के एक side में दर्द होना।
  • छाती में दर्द होना।
  • आँखों में दर्द के साथ धुंधला दिखना।

symptoms कि अधिक जानकारी के लिए आप https://www.icmr.gov.in/ पर जाकर इससे जुड़ी अधिक जानकारी ले सकते है।

ब्लैक फंगस से बचाओ के तरीके? (Prevention of black fungus in hindi)

Black fungus से बचाव के लिए डॉक्टर ने कुछ  उपाय बताये है। उन्होंने कहा है कि पेशेंट के सुगर लेवल को काफी अच्छी तरह control किया जाना चाहिए। अगर पेशेंट ऑक्सीजन सपोर्ट में है, तो उसके humidifier में जो पानी है वो साफ़ होना चाहिए।  जो पेशेंट steroids पर है उनके ब्लड सुगर लेवल की नियमित तौर पर जांच होते रहनी चाहिए, और steroids और उसके dose को देने में सतर्कता भी बरतनी चाहिए।

इस आर्टिकल का मकसद सिर्फ black fungus के बारे में जानकारी देना है यह कोई प्रोफेशनल की एडवाइस नहीं है। Black fungus के बारे में और अधिक जानकारी आप इस लिंक  https://www.icmr.gov.in/ पर जा सकते है, और इस बीमारी से समन्धित अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते है।

आशा करते है कि आपको इस Article से कुछ नया जानने को मिला होगा। और अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा, तो इसे अपने जानने वालो के साथ भी जरूर share करे और खासकर उन्हें जिन्हें इसकी अधिक जरूरत हो। धन्यवाद।

Also read –

Yellow fungus क्या है


पोस्ट को share करें-

Similar Posts

2 Comments

  1. Thanks a lot for sharing this with all of us you actually know what you are talking about! Bookmarked. Please also visit my web site =). We could have a link exchange arrangement between us!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *