tally interview questions in hindi

Tally के 35 इंटरव्यू प्रश्न और उत्तर | Top 35 tally interview questions in hindi

पोस्ट को share करें-

Tally के प्रश्न और उत्तर, tally interview questions and answers in hindi, [tally mcq, viva questions], tally के notes, computer notes, tally notes, कंप्यूटर notes, tally question pdf, tally के mcq, tally के नए प्रश्न, tally for fresher, tally for experienced, accounting computer notes in hindi, bca notes in hindi.

क्या आप भी एकाउंटिंग में अपना भविष्य बनना चाहते है, और इसके लिए tally की इंटरव्यू की तैयारियों में लगे हुए है? या फिर आप एक student है, जो अपने tally के concept को काफी मजबूत करना चाहते है, और इसमें और अच्छा बनना चाहते है?

इन दोनों में से आप भी कोई भी क्यों ना हो,आज आप बिल्कल सही जगह पे आए है, जहाँ हम tally सॉफ्टवेयर से समन्धित कुछ ऐसे topics के बारे में जानने वाले है, जो अमूमन interview या किसी viva में पूछे जाते आए है।

यहां, हर एक interview के साथ ही बड़ी कंपनियों में भी पूछे जाने वाले वास्तविक प्रश्न मिलेंगे, जो आपकी तैयारियों को और भी ज्यादा मजबूत करेंगे। और साथ ही यहाँ हर एक प्रश्न के साथ उसके उत्तर भी दिए गए है, ताकि तैयारी के समय की बचत हो सके।

यह आर्टिकल आपको अपने tally सॉफ्टवेयर के कौशल को और ज्यादा साफ़ करने और अपना आत्मविश्वास वापस पाने और किसी नौकरी के लिए तैयार होने में काफी मदद करेगी। साथ ही यह उन छात्रों की भी काफी ज्यादा मदद करेगी जो, इस विषय में अपने ज्ञान को और बढ़ाना चाहते है। 

तो आइये अब हम जानते है,ऐसे ही प्रश्नों के बारे में जो experts और teacher द्वारा इस विषय में काफी ज्यादा पूछे जाते है –

Table of Contents

Accounting में कंप्यूटर का क्या काम है?

आज कंप्यूटर की सहायता से हम एकाउंटिंग से जुड़े कई सारे काम बड़ी आसानी के साथ और काफी जल्दी पुरे कर सकते है, जैसे की –

  • सारे business transactions के रिकॉर्ड रखना।
  • अलग-अलग ledger accounts जैसे की कैश, बैंक, sales, debtors, creditors, आदि साथ ही में अलग-अलग nominal और real accounts तैयार करने जैसे काम।
  • स्टोर किये गए सभी तरह के डेटा को up to date रखना।
  • Payrolls जैसे की wages,सैलरी, आदि तैयार करना।
  • अलग-अलग तरह के vouchers जैसे की कैश, नॉन-कैश, transfer, आदि तैयार करना।  
  • क्रेडिट invoice और कैश मेमो वगेरा तैयार करना।
  • Trail बैलेंस तैयार करना।
  • Final accounts जैसे की profit/loss, बैलेंस शीट, आदि तैयार करना।
  • साथ ही cost रिपोर्ट और cost शीट वगेरा तैयार करना।    इत्यादि।

Computerized एकाउंटिंग सिस्टम के क्या फायदे हो सकते है?

आज के समय में Computerized एकाउंटिंग का उपयोग करने के लिए हमे “tally” जैसे सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करना पड़ता है, जो की डेटाबेस के concept पे आधारित होते है। और इसके इस्तेमाल से हमे journals और ledgers को खुद से लिखने और maintain करने की आवश्यकता नही होती। एक Computerized एकाउंटिंग सिस्टम के कई फायदे होते है, जैसे की –

  • यह हमारे business डेटा को online स्टोर करने में सहायता करती है।
  • यह बिज़नस process को automatic बनाता है।
  • बिक्री और खरीद के invoice का प्रिंट निकल सकते है।
  • बैंकिंग transactions के रिकॉर्ड रख सकते है।
  • Suppliers के invoice का रिकॉर्ड रखा जा सकता है।
  • यह stocks के रोकार्ड को अच्छे से maintain करने में सहायता करती है।
  • यह suppliers को किये गए payments को रिकॉर्ड करने में मदद करती है।
  • यह अलग-अलग एकाउंट्स के ग्रुपिंग में मददगार है।
  • यह काफी सटीक होते है, और इनके इस्तेमाल से समय की भी काफी ज्यादा बचत होती है।
  • इसमें कम labour की जरुरत होती है।
  • कुछ भी गड़बर होने पे, इनमे warning signals मिलते है, ताकि गलती को तुरंत ही सुधारा जा सके।
  • साथ ही इसमें रिकॉर्ड को काफी जल्दी बनाया जा सकता है।   आदि।

Accounting के लिए किस तरह के softwares इस्तेमाल किये जाते है?

एकाउंटिंग के लिए अमूमन तीन तरह के सॉफ्टवेयर प्रोग्राम का इस्तेमाल किया जाता है, जैसे की –

Readymade सॉफ्टवेयर –  यह वैसे पहले से तैयार एकाउंटिंग सॉफ्टवेयर होते है, जिन्हें खासकर छोटे business firms के लिए तैयार किया जाता है। यह अक्सर limited users के लिए होते है, जिस कारण इन्हें इस्तेमाल करना भी काफी किफायती होता है। ऐसे ही कुछ सॉफ्टवेयर है – Tally, BUSY, आदि।

Customized सॉफ्टवेयर – यह वो सॉफ्टवेयर होते है, जिन्हें readymade सॉफ्टवेयर में कुछ फेर-बदल करके तैयार किया जाता है। जैसे invoice के डिजाईन, bills के डिजाईन वगेरा आदि। एक user को किसी readymade सॉफ्टवेयर में अपने काम के हिसाब से फेर-बदल करवाने के लिए developers को pay भी करना परता है। और ऐसे softwares बड़े और मध्यम size के business में ज्यादा इस्तेमाल होते है।

Taylormade सॉफ्टवेयर – यह वैसे सॉफ्टवेयर होते है, जिन्हें user के requirements के aadhar पे बिल्कुल शुरु से ही तैयार किया जाता है। इसका हर एक design और हर एक function बिलकुल इसे इस्तेमाल करने वाली कंपनी के जरूरतों के aadhar पे किया जाता है। और ऐसे सॉफ्टवेयर को आम-तौर बड़ी business firms द्वारा तैयार करवाया जाता है।

Tally क्या है? (What is tally in hindi)

Tally एक कंप्यूटर सॉफ्टवेयर प्रोग्राम है, जिसे accounting के कामों के लिए इस्तेमाल किया जाता है। और इसमें कई तरह के काम किये जा सकते है, जैसे की –

  • tax returns भरना। 
  • balance sheets तैयार करना। 
  • profit/loss के statements बनाना।
  • GST का हिसाब करना।     आदि।

Tally में क्या-क्या विशेष फायदे है?

इस सॉफ्टवेयर प्रोग्राम को इस्तेमाल करने के कई तरह के विशेष फायदे होते है, जैसे की –

  • इसके इस्तेमाल से अच्छे से बजट तैयार की जा सकती है।
  • अच्छे profit को ध्यान में रखकर ledger को maintain लिया जा सकता है।   
  • इसमें सारे dealers की invoicing की जा सकती है।
  • इसके इस्तेमाल से Finance को अच्छे से manage किया जा सकता है।
  • साथ ही इसमें checks भी प्रिंट किये जा सकते है।    आदि।

Accounting के golden rule क्या है? (Accounting golden rule in hindi)

अलग-अलग एकाउंट्स के एकाउंटिंग के गोल्डन रूल है –

Personal a/c – Cr – the receiver 

            Dr – the giver 

उदहारण के लिए – कोई person या कंपनी।

Real a/c – Dr – what comes in 

      Cr – what goes out  

उदहारण के लिए – assert, प्रॉपर्टी, आदि।

Nominal a/c – Cr – income & gain 

            Dr – expense & loss   

उदहारण के लिए – income, profit/loss, आदि।

Tally में किस तरह के ledgers बनाये जा सकते है?

इस सॉफ्टवेयर प्रोग्राम में कई तरह के ledgers बनाये जा सकते है, जैसे की –

  • Sales ledger 
  • टैक्स ledger 
  • पार्टी ledger 
  • बैंक अकाउंट
  • current liabilities
  • Income ledger 

Tally ERP 9 में पहले से defined ledgers कौन से होते है?

इसमें पहले से दो तरह के ledgers मौजूद होते है, जो की है – 

  • Cash –  Cash-in-hand group में इस ledger को create किया जाता है, जिसमे हम opening balance को दाल सकते है। 
  • Profit and Loss Account – इस ledger को Primary ग्रुप के under बनाया जाता है, और इसमें पिछले साल के profit और loss को इस ledger के opening balance के रूप में लिखा जाता है।  

Tally में group क्या होते है?

यह उन ledgers का समूह होते है, जिनका nature एक समान होता है।जैसे किसी business में टेलीफोन बिल, बिजली बिल जैसे खर्चो को एक group में रखा जाता है। और इन group पे आधारित ledgers का इस्तेमाल accounting vouchers की entry करते वक़्त किया जाता है। 

Tally के accounts book मेनू में क्या-क्या options मौजूद होते है?

इसके menu में कई तरह के options मौजूद होते है, जैसे की –

  • Purchase Register
  • Journal Register
  • Cash Book
  • Sales Register
  • Ledger
  • बैंक Book
  • Group Summary

Tally ERP 9 में मौजूद अलग-अलग vouchers और उनके shortcuts बताये?

Tally मे मौजूद अलग-अलग vouchers है –

Vouchers विवरणShortcut 
Contra Voucherयह बैंक से कैश, कैश से बैंक, या किसी बैंक से दूसरे बैंक में फण्ड के transfer को दर्शाता है। F4
Payment Voucherयह कोई payment history जैसे, ऑफिस rent या salary को दर्शाता है।F5
Receipt Voucherयह किसी receipt जको दर्शाता है, जैसे बैंक को किया गया कोई पेमेंट।F6
Journal Voucherइसमें कंपनी को चलाने के ऍक्स्प expenses शामिल होते है। F7
Sales/Invoice Voucherयह sales को दर्शाते है। F8
Credit Note Voucherयह तब तैयार की जाती है, जब गलत चीज़ मिलने पर customer कुछ माल वापस करते है। Ctrl+F8
Purchase Voucherइसमें एंट्री तब की जाती है, जब business को चलाने के लिए कुछ ख़रीदा जाता है।  F9
Debit Note Voucherइसमें एंट्री तब की जाती है, जब किसी माल के expire या damage पर उसे supplier को वापस किया जाता है। Ctrl+F9
Reversing Journalsयह एक खाश तरीके का journal होता है, जो journal के date के बाद खुद ही reverse हो जाता है।F10
Memo Voucherइसे unknown expense के लिए एंट्री की जाती है, जिसे बाद में या तो actual sale voucher में बदल दिया जाता है, या फिर इसे डिलीट कर दिया जाता है। Ctrl+F10

Trial balance किसे कहा जाता है?

  • यह ledger के balances और checks की summary होती है, जहाँ सारे figures को सही से बैलेंस करने लिखा जाता है। 
  • साथ ही इसका इस्तेमाल यह सुनिश्चित करने के लिए भी किया जाता है की, general ledger में किये गए सभी journal entries सही है या नही।
  • Trail बैलेंस में सारे debts balances और सारे  credit balances समान होने चाहिए।

Tally को remotely इस्तेमाल करने की क्या आवश्यकताएं है?

Tally सॉफ्टवेयर को remotely इस्तेमाल करने के लिए, हमे कुछ आवश्यक बातों को ध्यान में रखना होता है, जैसे की –

ग्राहक के पास (Customer’s end)

  • एक अच्छा इन्टरनेट कनेक्शन।
  • Tally का licensed version और tally.net का subscription होना चाहिए। 
  • किसी कंपनी को दूर स्थान से चलाने के लिए उसमे remote users बनाना और उसे  authorize करना।
  • दूर स्थान में इस्तेमाल करने के लिए कंपनी को tally.net में load करना और connect करना।

दूरस्थ स्थान पर (remote location)

  • एक अच्छा इन्टरनेट कनेक्शन।
  • Tally का licensed version होना चाहिए । 
  • सॉफ्टवेयर में बनाये कंपनी को इस्तेमाल करने के लिए सही user id और पासवर्ड।

Tally में book of accounts कैसे देख सकते है?

इसमें book of accounts देखने के लिए हमे कुछ steps को follow करने की जरुरत होती है, जो की है-

  • Tally के gateway में हमे “D” बटन को दबाना है, जिसके बाद display menu खुल जायेगा।
  • Display menu के खुलने के बाद, हमे “A” बटन को दबाना है, जिससे  accounts books मेनू खुल जायेगा।

Tally में Balance Sheet की सेटिंग पहले से कैसी रहती है?

इसमें पहले से दो columns मौजूद होते है, जो की है Liabilities और Assets। बैलेंस शीट सभी primary groups के closing बैलेंस को दर्शाता है और इसके अलावा यह किसी period के capital accounts और net profit को भी दर्शाता है। 

Inventory का statement किस काम आता है?

  • यह गोदामों पर आधारित inventory रिपोर्ट देखने के काम आता है।
  • Inventory के आधार पे यह items के details ट्रैक करने के काम आता है।
  • यह स्टॉक जानने में भी काम आता है।
  • साथ ही यह बजट का पूर्वानुमान करने, व्यापार में आगे की योजनाओं को बनाने, आदि के भी काम आता है।

Tally में डेटा को encrypted कैसे किया जाता है?

  • इसमें डेटा को encrypt करने के लिए, “tally vault” function का उपयोग करना होता है।
  • इसके लिए पहले हमे tally gateway में जाना होता है, फिर वहा F3 बटन दबाना होता है।
  • इसके बाद हमे उस कंपनी को select करना होता है, जिसका डेटा हमे encrypt करना होता है।
  • और एक बार encrypt हो जाने के बाद, केवल वैध पासवर्ड रखने वाले व्यक्ति ही उन encrypted डेटा को देख सकते हैं।

Tally में किसी text को कॉपी और पेस्ट कैसे किया जा सकता है? 

इस सॉफ्टवेर प्रोग्राम में किसी text को कॉपी करने के लिए “Ctrl+Alt+C” और पेस्ट करने के लिए “Ctrl+Alt+V” दबाना होता है।

Discount क्या होता है?

यह किसी चीज़ को बेचते वक़्त, उसके दाम में की गयी कमी को दर्शाता है।

Discount कितने तरह के होते है?

यह आम तौर पे चार तरह के होते है, जो की है –

  • कैश discount 
  • ट्रेड discount
  • स्पेशल discount
  • कमोडिटी discount

Direct और indirect cost में क्या अंतर है?

Direct cost ऐसे खर्चे होते है, जो अपने सिस्टम को चलाने में directly जुड़े हुए होते है, जैसे की – मशीन की खरीद, labour का खर्च, लोगो की सैलरी, stationeries की खरीद, आदि। वही indirect cost ऐसे खर्चे होते है, जो सिस्टम के functioning से सीधे तौर पे नही जुड़े हुए होते, जैसे की AC, fan वगेरा की खरीद, insurance, maintenance का खर्चा, आदि।   

Tally ERP9 में vouchers के daybook को कैंसिल करने का shortcut क्या है?

Tally ERP9 में vouchers के daybook को कैंसिल करने के लिए (ALT+X) दबाने की जरुरत होती है।

Tally ERP 9 में कंपनी बनाते वक़्त कौन सी जानकारी खुद ही स्टोर हो जाती है?

Tally ERP 9 में कंपनी बनाते वक़्त Directory खास कर path जहा कंपनी का डेटा मौजूद होता है, खुद ही स्टोर हो जाती है। 

Purchase order voucher को select करने का शॉर्टकट क्या है?

Accounting और inventory voucher बनाते समय इसे select करने के लिए, “ALT+F4” दबाना होता है। 

Monetary value पे आधारित जानकारी को filter करने के लिए शॉर्टकट key क्या है?

Monetary value पर आधारित जानकारी को filter करने के लिए शॉर्टकट key “Alt+F12” है।  

FAQ(Frequently Asked Questions)

टैली में सर्टिफिकेशन करना क्यों जरुरी होता है?

Tally में सर्टिफिकेशन एक व्यक्ति के इस सॉफ्टवेयर में हासिल की गयी महारत को प्रदर्शित करने का एक आसान और प्रभावी तरीका होता है। साथ ही इससे आपका प्रोफाइल भी अच्छा बनता है, और किसी नौकरी में चुने जाने की संभावना भी काफी ज्यादा बढ़ जाती है और ये आपके करियर विकल्पों में और भी ज्यादा योगदान देने में मदद करता है।

Tally में किस-किस तरह के सर्टिफिकेशन होते है?

Tally के कई तरह के सर्टिफिकेशन होते है, जैसे की –

1. Inventory in Tally. ERP9.
2. Accounting in Tally. ERP 9 (ATA)
3. Master in TDS (MT)
4. Master in TCS, Excise
5. Master in Service Tax (MST)
6. Master in VAT & CST (MVC)
7. Remote Access

Interest payable के लिए कौन सा account जवाबदेह होता है?

Interest payable के लिए “Current liability account” जवाबदेह होता है।

Tally में date बदलने का shortcut क्या है?

Tally में date बदलने के लिए “F2” दबाने की जरुरत होती है।

Deferred taxations किस equity का एक हिस्सा होते है?

Deferred taxations owner’s equity का हिस्सा होते है।

Tally में Voucher Creation और Alteration Screen का shortcut क्या है?

Tally ERP 9 में master create करने या स्क्रीन को alter करने करने के लिए “Alt+C” दबाने की जरुरत होती है। 

किसी voucher के narration को repeat करने के लिए क्या shortcut है?

Voucher के narration को repeat करने के लिए “Ctrl+R” दबाने की जरुरत होती है।

Tally ERP 9 में आखिर में डिलीट की गयी लाइन को वापस लाने का shortcut क्या है?

इसमें आखिर में डिलीट की गयी लाइन को वापस लाने के लिए “Ctrl+U” दबानी पड़ती है।

किसी voucher में मौजूद पहले ledger के last narration को रिकॉल करने का shortcut क्या है?

इसे रिकॉल करने के लिए “Alt+R” दबाने की जरुरत होती है। 

आशा करता हूं कि आज आपलोंगों को कुछ नया सीखने को ज़रूर मिला होगा। अगर आज आपने कुछ नया सीखा तो हमारे बाकी के आर्टिकल्स को भी ज़रूर पढ़ें ताकि आपको ऱोज कुछ न कुछ नया सीखने को मिले, और इस articleको अपने दोस्तों और जान पहचान वालो के साथ ज़रूर share करे जिन्हें इसकी जरूरत हो। धन्यवाद।

Also read –

Banking के 50 इंटरव्यू प्रश्न और उत्तर

सॉफ्टवेयर टेस्टिंग के इंटरव्यू प्रश्न

New banking system के 55 इंटरव्यू प्रश्न


पोस्ट को share करें-

Similar Posts

4 Comments

  1. I am sure this piece of writing has touched all the internet
    people, its really really pleasant post on building
    up new weblog.

  2. Kontennya manis banget! Seperti otakku menikmati cupcake kebijaksanaan. 🧁🧠 #IndosneioCupcakeKebijaksanaan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *